banner1 banner2 banner3
Bookmark and Share

veg6

समाज, देश और दुनिया में नफरत की आंधी चल पड़ी है। हर व्यक्ति एक दूसरे का हक छीनने की कोशिश में लगा हुआ है। बाबा जय गुरुदेव का संदेश है कि शाकाहारी बनकर ही समाज में फैली इन व्याधियों से छुटकारा पाया जा सकता है। शाकाहार करने से मन व विचार शुद्ध रहता है और व्यक्ति संयमित व सामाजिक व्यवहार करता है।

यह कहना है बाबा जय गुरुदेव के उत्तराधिकारी पंकज महाराज का। वह रविवार को सहेड़ी स्थित आश्रम पर आयोजित सत्संग को संबोधित कर रहे थे। पंकज महाराज यहां 68वीं शाकाहार, सदाचार मद्य निषेध आध्यात्मिक जनजागरण यात्रा के साथ चौदहवें पड़ाव पर पहुंचे थे। बाबा ने कहा कि लोग गृहस्थ आश्रम में रहकर इमानदारी से रोजी रोटी कमाएं। महिलाओं का सम्मान करें और सामाजिक कार्यों में सहयोग करें। बताया कि बाबा जय गुरूदेव आश्रम मथुरा में स्थापित विद्यालय में इंटरमीडिएट तक बच्चों को मुफ्त शिक्षा दी जाती है। आसपास के गांवों में मुफ्त शुद्ध पेयजल की व्यवस्था कराई गई है। संत से मिलना बहुत जरूरी है तभी भाव सागर से बेड़ा पार होगा। संत सभी के होते हैं और सभी का कल्याण चाहते हैं। कार्यक्रम के दौरान बरसात होने लगी लेकिन भक्तगण जमे रहे। इस मौके पर प्रमुख रूप से डा. रामकृष्ण यादव महामंत्री, संतराम चौधरी प्रांतीय अध्यक्ष, बाबूराम राष्ट्रीय उपदेशक, राम लक्षन यादव जिलाध्यक्ष, इंद्रदेव यादव, संयोजक, प्रभा यादव संगत संरक्षक, रमेश यादव, लालू यादव, रामनाथ यादव, रणजीत यादव, बासुदेव यादव, परमानंद गौड़, हरिनाथ, जंगबहादुर व सुरेश गुप्ता आदि उपस्थित थे।

जय गुरुदेव आश्रम पर सुरक्षा की चाक चौबंद व्यवस्था की गई थी। यहां पर हजारों की संख्या में श्रद्धालु जुटे थे। इसमें काफी महिलाएं भी शामिल थीं। पिछले वर्ष रामनगर में आयोजित जय गुरूदेव के कार्यक्रम के दौरान पुल पर भीड़ अधिक होने से भगदड़ मच गई, जिससे दर्जनों श्रद्धालुओं की मौत हो गई थी। इसे देखते हुए प्रशासन ने सहेड़ी में काफी संख्या में पुलिस बल तैनात किया था।

265534